• +(91) 7000106621
  • astrolok.vedic@gmail.com

Learn what’s best for you

Learn Jyotish
horoscopes

जानिये श्रीमद्‍भगवद्‍गीता में ज्योतिष का महत्व !

जन्म के विवरण के बिना कई बार लोग हमारे पास आते हैं, जन्म विवरण सटीक नहीं है इसलिए सुधारना संभव नहीं है, कुंडली मूल के व्यावहारिक जीवन से मेल नहीं खाती .. इसी तरह के कई मामलों में। हम कुंडली ज्योतिष का उपयोग करने में सक्षम नहीं हैं। मेरी प्रणाली में हम उन लोगों के लिए भविष्यवाणी करने के लिए गीता का उपयोग करते हैं, जिनके पास कुंडली नहीं है, कुंडली से जवाब देने के लिए प्रश्नों और विभिन्न विशिष्ट प्रश्नों, बहुत मुश्किल और जीवन बदलते प्रश्नों के बारे में पूछना संभव नहीं है, हम गीता से अपना जवाब जांचते हैं। इस मामले में गीता जो कुछ भी बताती है, वह अंतिम है। उसके बाद, कोई फर्क नहीं पड़ता कि क्या होता है, लेकिन गीता का निर्णय सर्वोच्च है। गीता काफी वृहद शास्त्र है। ज्यादातर प्राचीन शास्त्रों एवम् ग्रंथ में यह सबसे सरल है। यह शास्त्र के कई महत्वपूर्ण उपयोग है। जैसे जीवन दर्शन, आध्यात्म, नैतिक शिक्षा, कूटनीति, युद्ध नीति, धर्म आदि। इसके साथ साथ इसका एक विशेष महत्व भी है, इसका उपयोग ज्योतिष में फलकथन के लिए भी किया जाता है। जिसका प्रयोग हमारे द्वारा भी किया जाता है। गीता से ज्योतिष प्रश्नों के उत्तर कहते हैं कि गीता मे सभी प्रश्नों के उत्तर है, लेकिन यह उत्तर कैसे प्राप्त किए जाए। कैसे गीतों से इन उत्तरों को निकाला जाए। इसकी तकनीक कोई नहीं बताता ना ही कोई उत्तर निकालता है। मैंने इसलिए इन सब को देखते हुए #गीता से उत्तर देने का काम हाथ में लिया। गीता के माध्यम से कठिन गुप्त और अलग-अलग तरह के प्रश्नों के उत्तर देना बिल्कुल संभव है। यह कार्य मेरे द्वारा कई वर्षों से किया जा रहा है। #गीता से प्रश्न उत्तर - अ. 1 में 1-47 श्लोक ■ अ. 2 में 1-72 श्लोक ■ अ. 3 में 1-43 श्लोक ■ अ. 4 में 1-42 श्लोक ■ अ. 5 में 1-29 श्लोक ■ अ. 6 में 1-47 श्लोक ■ अ. 7 में 1-30 श्लोक ■ अ. 8 में 1-28 श्लोक ■ अ. 9 में 1-34 श्लोक ■ अ. 10 में 1-42 श्लोक ■ अ. 11 में 1-55 श्लोक ■ अ. 12 में 1-20 श्लोक ■ अ. 13 में 1-34 श्लोक ■ अ. 14 में 1-27 श्लोक ■ अ. 15 में 1-20 श्लोक ■ अ. 16 में 1-24 श्लोक ■ अ. 17 में 1-28 श्लोक ■ अ. 18 में 1-78 श्लोक #प्रक्रिया इसमें से अध्याय और उसका श्लोक का नंबर बताये। इसके साथ में आपका सिर्फ एक प्रश्न बताएं। If you are interested in writing articles related to astrology then do register at – https://astrolok.in/my-profile/register/ or contact at astrolok.vedic@gmail.com  

comments

Leave a reply