• +(91) 7000106621
  • astrolok.vedic@gmail.com

Learn what’s best for you

Learn Jyotish
horoscopes

जानिए क्या है विशेष योग वर्ष 2019 की पहली शनि अमावस्या पर...

प्रिय मित्रों/पाठकों, इस वर्ष की पहली अमावस्या संयोग से शनिवार पांच जनवरी को पड़ रही है। यह अमावस्या शुक्रवार चार जनवरी की आधी रात 4:58 बजे से लगेगी जो रविवार 6 जनवरी को सुबह 6:58 बजे तक रहेगी।

पौष माह की स्नान दान की अमावस्या 5 जनवरी 2019 को है। इस दिन शनिवार होने से शनिश्चरी अमावस्या है। अमावस्या के दिन पितरों को तर्पण देने, गरीबों को दान देने और गंगा जी या पवित्र नदियों में स्नान करने से पुण्य प्राप्त होता है और पूर्वजों को मोक्ष मिलता है। ज्योतिषाचार्य एसएस नागपाल ने बताया कि अमावस्या के दिन व्रत रखने से भी कष्टों और संकट से मुक्ति मिलती है। जिन लोगों पर कालसर्प दोष होता है इस दिन उपाय करने से उन्हें भी मुक्ति मिलती है। 

इस अवसर पर भक्तगण स्नान दान श्राद्ध जैसे कर्म शनि अमावस्या पर कर सकते हैं। शनि अमावस्या पर शनिदेव की विधि विधान से पूजा करने पर सुख समृद्धि प्राप्त होती है और शनि ग्रह के दोषों से निजात मिलता है। उज्जैन के ज्योतिषशाचार्य पण्डित दयानन्द शास्त्री ने बताया कि शनि अमावस्या पर पित्र दोष की शांति और कालसर्प दोष का निवारण उज्जैन के सिद्ध घाट एवम रामघाट पर विशेष रूप से लाभकारी होता है। शनिदेव जो कि कर्मफल दाता हैं, उनकी दृष्टि से कोई नहीं बच सकता। शनिदेव जब प्रसन्न होते हैं तो व्यक्ति को ढेर सारी खुशियां देते हैं, लेकिन जब कोई कुछ गलत करता है, तो उसे भी छोड़ते नहीं है।

वर्ष 2019 का पहला शनिवार धार्मिक रूप से काफी शुभ है क्योंकि पांच जनवरी को शनि अमावस्या का योग बन रहा है यह योग बेहद फलदाई सिद्ध होगा। इस वर्ष की पहली अमावस्या शनिवार को पड़ रही है। जिससे शनि देव के शुभ दिन अर्थात शनिवार को ही अमावस्या की पूजा विधि विधान से करने पर शनि दोषों से मुक्ति मिलेगी। शनिश्चरी अमावस्या का दिन शनि से संबधित परेशानियों जैसे शनि की साढे-साती और ढैय्या से मुक्ति पाने के लिए बहुत ही अच्छा है। साथ ही इस दिन पितृ दोष आदि से भी छुटकारा पाया जा सकता है। आठ इस शनिश्चरी अमावस्या के दिन आप शनि संबंधी इन सारी परेशानियों से छुटकारा पा सकते हैं 

शनि अमावस्या पर शाम के समय पश्चिम दिशा की ओर मुंह करके दान करने से शनिदेव का आशीर्वाद मिलता है।

 ऐसा करने से शनि ग्रह की उत्तम स्थिति से ऐश्वर्य और प्रतिष्ठा प्राप्त होती है साथ ही समस्त भौतिक सुख मिलते हैं। 

शनि अमावस्या पर पीपल के पेड़ की 108 परिक्रमा करने पर रोगों से छुटकारा और सौभाग्य की प्राप्ति होती है।

इस अवसर ओर जानिए की कैसे करें शनिदेव को प्रसन्न--

वृषभ और कन्या राशि पर शनि ग्रह की अढ़ैया चल रही है जबकि वृश्चिक, धनु और मकर राशि पर शनि के साढ़ेसाती का प्रभाव है।

इस दिन व्रत रखकर सायंकाल में शनि पूजन और शनि की वस्तुओं के दान और शनि के मंत्र जैसे ‘‘ऊं शं शनैश्चराय नमः। ‘‘प्रां प्रीं प्रौं सः शनये नमः के जाप से शनि प्रसन्न होते है। 

वर्तमान में शनि की साढ़े साती मकर, धनु, वृश्चिक राशि पर चल रही है और शनि की ढैया वृषभ और कन्या राशि में चल रही है। 

 इन राशियों के जातकों पर शनि अमावस्या का कठिन और विषम प्रभाव पड़ने वाला है जिसमें मौसम में परिवर्तन और अप्रत्याशित विषम घटनाएं घटित हो सकती हैं। 

इस दिन शनि देव को काले रंग की वस्तुएं ही चढ़ाएं जैसे काला वस्त्र, काला साबुत उड़द, काला तिल, सरसों का तेल या तिल का तेल, लोहे का बर्तन चढ़ाना लाभकारी सिद्ध होगा। इसी क्रम में शनिदेव के मंदिर में सरसों के तेल से उनका अभिषेक करें और अखंड ज्योति जलाएं।

इन पांच मंत्रों का करें जापः-
1- ॐ शं शनैश्चराय नमः
2- ॐ प्रां प्रीं प्रौ सः शनये नमः
3- ॐ प्रां प्रीं प्रौ सं शनैश्चराय नमः
4- ॐ नमो भगवते शनैश्चराय सूर्यपुत्राय नमः
5- ॐ ऐं ह्रीं श्रीं शनैश्चराय नमः

ग्रहण के दिन बना शनैश्चरी अमावस्या का योग--

साल का पहला सूर्य ग्रहण भले ही भारत में नजर नहीं आएगा लेकिन इस दिन शनैश्चरी अमावस्या होने की वजह से यह दिन बेहद खास होगा। शनैश्चरी अमावस्या के दिन ग्रहण होने के कारण इस दिन दान, जप-पाठ, मंत्र एवं स्तोत्र-पाठ, मंत्र सिद्धि, तीर्थस्नान, ध्यान, हवन आदि का महात्मय और भी बढ़ जाता है।

शनि अमावस्या पर करें यह उपाय--

ग्रहण काल के समय अगर शिव जी का पूजन किया जाए तो जिन पर शनि की साढ़े साती अथवा ढैया चल रही हो उसकी सभी विपत्ति दूर हो जाएंगी। ऐसे जातक जिनकी कुंडली में सूर्य और राहु या सूर्य शनि का संबंध हो तो उन्हें शिव जी की पूजा अवश्य करनी चाहिए। इस दिन गन्ने के रस, शहद और केसर मिश्रित दूध से शिव जी का पूजन करें। इस दिन शमी वृक्ष का पूजन भी अवश्य करना चाहिए, जिससे सभी रोगों से मुक्ति मिल जाती है।

अमावस्या के दिन शनि संबंधी परेशानियों से छुटकारा पाने और साथ ही उनकी कृपा से अपने काम बनाने के लिए ज्योतिषशाचार्य पण्डित दयानन्द शास्त्री से जानिए विशेष उपाय--

अगर आपका कोई कोर्ट केस अटका हुआ है या आपको न्याय मिलने में देरी हो रही है, तो आज के दिन आपको एक नीले रंग का फूल लेकर गंदे नाले में प्रवाहित करना चाहिए। साथ ही शनि के इस मंत्र का 51 बार जप करना चाहिए। 

मंत्र है –ॐ प्रां प्रीं प्रौं स: शनैश्चराय नम:।

अमावस्या के दिन ऐसा करने से जल्द ही आपका कोर्ट केस सुलझ जायेगा और आपको न्याय मिलेगा। इन उपाय सभी राशि वाले लोग कर सकते हैं।
अगर आपका जीवनसाथी अपने किसी विशेष काम के पूरा होने को लेकर परेशान है, तो अमावस्या के दिन एक मिट्टी की दिपक में 6 मुट्ठी सरसों के दाने लेकर, उसे अपने जीवनसाथी के हाथों से स्पर्श कराकर पीपल के पेड़ के नीचे रख आयें। अमावस्या के दिन ऐसा करने से आपके जीवनसाथी का जो भी काम है, वो जल्द से जल्द पूरा हो जायेगा।

यदि आप धन/आर्थिक तंगी को लेकर परेशान हैं, तो अमावस्या के दिन आपको मन्दिर में उड़द की दाल का दान करना चाहिए और इस प्रभावशाली मंत्र का 11 बार जप करना चाहिए। मंत्र इस प्रकार है -‘ऊँ शं यो देवि रमिष्ट्य आपो भवन्तु पीतये, शं योरभि स्तवन्तु नः।'  
यदि रोजगार या नौकरी के क्षेत्र में कोई व्यक्ति आपका दुश्मन बन बैठा है और आपको आगे नहीं बढ़ने दे रहा है, तो अमावस्या के दिन आपको अपने घर में शमी का पौधा लगाना चाहिए और उसकी जड़ में थोड़ा-सा पानी और काले तिल डालने चाहिए। कहते हैं ‘शमी शम्यते पापं, यानी शमी का पेड़ पापों का शमन करता है। अतः आज के दिन शमी का पेड़ लगाने से आपको नौकरी के क्षेत्र में अपने दुश्मनों से छुटकारा मिलेगा। बता दें कि ये उपाय सभी राशि वाले लोग कर सकते हैं।

यदि आपकी जन्म पत्रिका में पितृ दोष बना हुआ है और आपके कामों में एक के बाद एक परेशानी आती जा रही है, तो उससे छुटकारा पाने के लिये आज के दिन आपको दक्षिण दिशा की तरफ मुंह करके अपने पितरों के निमित्त श्राद्ध कार्य करना चाहिए। साथ ही पीपल की जड़ में पानी डालना चाहिए। अमावस्या के दिन ऐसा करने से आपको पितृ दोष से मुक्ति मिलेगी और धीरे- धीरे करके आपके काम भी बनने लगेंगे।
अगर पैसों के मामले में आपकी संतान की स्थिति कुछ ठीक नहीं चल रही है, तो आज से लेकर अगले 11 दिनों तक आपको अपने भोजन में से गाय, कौवे और कुत्ते के लिये भोजन जरूर निकालकर रखना चाहिए। ऐसा करने से पैसों के मामले में आपकी संतान की स्थिति धीरे-धीरे करके सुधरने लगेगी। बता दूं कि ये उपाय सभी राशि वाले लोग कर सकते हैं ।

अगर आप अपने जीवन को खुशियों से भर देना चाहते हैं, तो आज के दिन आपको पीपल की जड़ में जल चढ़ाना चाहिए। साथ ही सरसों के तेल का दीपक जलाना चाहिए। ऐसा करने से शनिदेव की कृपा से आपका जीवन खुशियों से भरा रहेगा।

अगर आप शनि संबंधी स्वास्थ्य परेशानियों से छुटकारा पाना चाहते हैं, तो आज के दिन आपको काले तिल का दान करना चाहिए। आज के दिन ऐसा करने से आपको शनि संबंधी स्वास्थ्य परेशानियों से जल्द ही छुटकारा मिलेगा। इन उपाय को सभी राशि वाले लोग कर सकते हैं ।

Astrolok is one of the best astrology institute where you can learn vedic astrology, marriage astrology, nadi astrology, horoscope matching through live vedic astrology classes. It is a free platform to write astrology articles. Become a part of it by registering at 
https://astrolok.in/my-profile/register/

comments

Leave a reply